लखनऊ में 8 साल का बच्चा सीवर में गिरा, मौत:हनुमान जयंती पर प्रसाद लेकर घर जा रहा था शाहरुख; 3 घंटे बाद निकाला शव

Date:

Share post:

यूथ इंडिया, लखनऊ। लखनऊ के जानकीपुरम इलाके में 8 साल का बच्चा सीवर के मैनहोल में गिर गया। जिससे उसकी मौत हो गई। नगर निगम, जल-कल और स्थानीय थाने की टीम ने करीब 3 घंटे के बाद रेस्क्यू कर शव निकाला। पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

हादसे की जानकारी होते ही नगर आयुक्त इंद्रजीत सिंह भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि यहां पर एसके कंस्ट्रक्शन नाम की फॉर्म कम कर रही है। अपर नगर आयुक्त ललित कुमार को मुकदमा दर्ज कराने का आदेश दे दिया गया है। एक जांच कमेटी बना दी गई है।

बच्चे की पहचान शाहरुख पुत्र सैफुद्दीन के रूप में हुई है। वह सीतापुर के अकबरपुर थाना लहरपुर का रहने वाला था। लखनऊ में परिवार के साथ जानकीपुरम सेक्टर- 7 में रह रहा था।

यह तस्वीर 8 साल के बच्चे शाहरुख की है। सीवर में गिरने से उसकी मौत हो गई।

यह तस्वीर 8 साल के बच्चे शाहरुख की है। सीवर में गिरने से उसकी मौत हो गई।

जलकल ने 4 लोगों को माना मौत का जिम्मेदार

जलकल के अधिशासी अभियंता मनोज कुमार शुक्ला ने जानकीपुरम थाने में तहरीर दी है। शिकायती पत्र में कहा गया है कि सीवर सफाई का काम एस के इंटरप्राइजेज को दिया गया है। फर्म के मालिक एस के सिंह और सुपरवाइजर अंकित कुमार ने काम में लापरवाही बरती। जिसके कारण ये हादसा हुआ।

वहीं जलकल विभाग के अवर अभियंता ग्या प्रसाद सिंह और फिटर अच्छेलाल को फर्म के काम की निगरानी की जिम्मेदारी दी गई थी। लेकिन ग्या प्रसाद और अच्छेलाल ने भी काम में लापरवाही दिखाई। इनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाए।

40 मिनट बाद पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची
स्थानीय लोगों के मुताबिक, बच्चा हनुमान जयंती के भंडारे से प्रसाद लेने के बाद पैदल घर जा रहा था। सीवर का मैनहोल खुला था। बच्चा उसे देख नहीं पाया और गिर गया। उसके साथ उसकी दो बहनें खुशबू और जोया भी थीं। शाहरुख के सीवर में गिरते ही दोनों चिल्लाने और रोने लगीं।

तभी वहां से कुछ लड़के गुजर रहे थे। बच्चियों से रोने के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि उनका भाई सीवर में गिर गया है। इसके बाद उन लड़कों ने झांक कर देखा, लेकिन उन्हें कुछ दिखा नहीं। उन्हीं लड़कों में से एक ने 1.40 बजे 100 नंबर पर डायल किया, लेकिन कोई रिस्पॉन्स नहीं मिला।

इसके बाद 112 नंबर पर डायल किया गया। करीब 40 मिनट बाद पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची। उन्होंने बच्चे को निकालने के लिए रेस्क्यू किया। करीब 4 बजे बच्चे को सीवर से निकाला गया। बच्चा बेहोशी की हालत में था। पुलिस बच्चे को हॉस्पिटल ले गई, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

शाहरुख जानकीपुरम एक्सटेंशन में एसआर पब्लिक स्कूल में KG में पढ़ता था। यह आईकार्ड 2023 का है।

शाहरुख जानकीपुरम एक्सटेंशन में एसआर पब्लिक स्कूल में KG में पढ़ता था। यह आईकार्ड 2023 का है।

CFO बोले- डूबने से हुई बच्चे की मौत
CFO (मुख्य अग्निशमन अधिकारी) ने बताया, दोपहर 2.53 बजे फायर स्टेशन बक्शी तालाब को अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी के बगल में सीवर लाइन में एक बच्चे के डूबने की सूचना मिली। फायर टीम मौके पर पहुंची और बच्चे के रेस्क्यू में जुट गई। सीवर की गहराई 18 फीट है, जबकि बच्चा छोटा था। डूबने से बच्चे की मौत हो गई।

वहीं, ADCP जितेंद्र कुमार दुबे ने बताया, दोपहर 3 बजे जानकीपुरम के प्रभारी निरीक्षक को सूचना मिली कि एक बच्चा मैनहोल में गिर गया है। इस पर प्रभारी निरीक्षक टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस टीम के अलावा SDRF को सूचना देकर बच्चे को मैनहोल से बाहर निकाला गया। बच्चे की स्थिति देखते हुए उसे KGMU भेजा गया, जहां डॉक्टरों की टीम ने उसे मृत घोषित कर दिया।

हादसे की तीन तस्वीरें…

मौके पर पहुंचे परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल है।

मौके पर पहुंचे परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल है।

घटना की जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में मोहल्ले के लोग पहुंच गए।

घटना की जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में मोहल्ले के लोग पहुंच गए।

प्रशासन की टीम ने बच्चे का रेस्क्यू किया। लेकिन जिंदा बचा नहीं सके।

प्रशासन की टीम ने बच्चे का रेस्क्यू किया। लेकिन जिंदा बचा नहीं सके।

बहन बोली- मैनहोल देखते समय पैर स्लिप हो गया
शाहरुख के पिता कबाड़ी का काम करते हैं। जिस जगह पर मैनहोल खुला पड़ा था, वहां से बच्चे के घर की दूरी 500 मीटर है। रोज उसका यहां से आना-जाना था। शाहरुख की सगी बहन खुशबू (10) ने बताया कि भाई मैनहोल देखने लगा, इस दौरान उसका पैर स्लिप कर गया।

खुशबू ने बताया, करीब 2 से 3 मिनट तक उन लोगों ने शाहरुख को पकड़कर रखा। लेकिन वह ज्यादा देर तक नहीं पकड़ सके। उस दौरान कोई आसपास से गुजर भी नहीं रहा था। जिससे कि वह आवाज देकर किसी को बुला लें।

3 महीने से खुला था मैनहोल
स्थानीय सुनील ने बताया कि करीब 3 महीने से मैनहोल खुला हुआ था। इसकी जानकारी नगर निगम और जल निगम को भी दी गई थी, लेकिन किसी ने सीवर को ढका नहीं। आज इसमें गिर कर बच्चे की मौत हो गई। वहीं नाराज लोगों ने कहा कि नगर निगम कुछ काम नहीं करता है।

पुलिस अधिकारी बनना चाहता था शाहरुख
शाहरुख के घर वालों ने बताया कि बेटा बड़ा होकर पुलिस में अधिकारी बनना चाहता था। इसलिए उसने पुलिस की ड्रेस में फोटो भी खिंचवाई थी। इसलिए परिवार के लोग उसकी पढ़ाई-लिखाई पर विशेष ध्यान दे रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

केदारनाथ में हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग:उतरने की कोशिश में 8 बार लहराया, टेल जमीन से टकराई; 7 लोगों की जान बची

यूथ इंडिया, रुद्रप्रयाग। केदारनाथ धाम में शुक्रवार सुबह हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई है। इसमें सवार पायलट...

पुणे एक्सीडेंट केस: फडणवीस ​​​​​​​बोले- कोर्ट का फैसला चौंकाने वाला:जुवेनाइल बोर्ड ने नरम रुख अपनाया; आरोपी नाबालिग जमानत पर, बिल्डर पिता सहित 5 गिरफ्तार

यूथ इंडिया, पुणे। महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने पुणे के पोर्श कार एक्सीडेंट मामले पर कोर्ट...

फर्रुखाबाद: अलीगंज के बूथ संख्या 343 पर 25-मई को होगा पुर्नमतदान:युवक ने 8 वोट डालने का बनाया था वीडियो, सपा प्रमुख समेत कई नेताओं...

यूथ इंडिया, एटा। फर्रुखाबाद लोकसभा की अलीगंज विधानसभा के मतदेय स्थल संख्या 343 प्राथमिक विद्यालय खिरिया पमारान में...

चुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका, पूर्व विधायक सोनू सिंह ने ज्वाइन की सपा, 2019 में दी थी मेनका गांधी को कड़ी टक्कर

यूथ इंडिया, लखनऊ। छठे चरण की वोटिंग से ठीक पहले भाजपा प्रत्याशी की मुश्किलें बढ़ गई हैं। बाहुबली...