विश्व कप से पहले भारत को हराना हमारे लिए बहुत बड़ी बात : चंडिका हथुरुसिंघा

Date:

Share post:

कोलंबो, यूथ इंडिया। एशिया कप के अंतिम सुपर फोर मुकाबले में भारत पर अपनी टीम की छह रनों की करीबी जीत के बाद, बांग्लादेश के मुख्य कोच चंडिका हथुरुसिंघा ने कहा कि आईसीसी विश्व कप से पहले भारतीय टीम को हराना उनके लिए बहुत बड़ी बात है। साथ ही उन्होंने अपनी टीम की गहराई पर खुशी जताई। आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 5 अक्टूबर से भारत की मेजबानी में खेला जाएगा।

ईएसपीएन क्रिकइन्फो के हवाले से मुख्य कोच चंडिका हथुरुसिंघा ने कहा, “विश्व कप में जाने से पहले भारत को हराना हमारे लिए बहुत बड़ी बात है।”

उन्होंने कहा, “हम बहुत आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ रहे हैं, खासकर इस टूर्नामेंट में जो हुआ उससे। हमने एशिया कप से पहले तक बहुत अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन इस टूर्नामेंट में हमें सामूहिक प्रयास करने के लिए संघर्ष करना पड़ा। मैं कोई बहाना नहीं बना रहा हूं, लेकिन हम कैंडी, लाहौर और कोलंबो जैसी विभिन्न परिस्थितियों में खेले। महत्वपूर्ण समय पर हमें कुछ चोटें आईं। मेरे लिए सुखद बात हमारे अन्य खिलाड़ियों की गहराई है। इस टूर्नामेंट से हमें 15 खिलाड़ियों का चयन करने के लिए वास्तव में अच्छी गहराई मिली है।”

कोच ने महेदी की प्रशंसा की, जिन्हें टूर्नामेंट में श्रीलंका के खिलाफ पहले मैच के बाद बाहर कर दिया गया था और वह अंतिम एकादश में एक वास्तविक ऑलराउंडर के रूप में अपनी जगह पक्की करने के लिए संघर्ष कर रहे थे।

हाथुरुसिंघा ने कहा, “कुल मिलाकर, एक क्रिकेटर के रूप में, मैं मैदान पर उनके रवैये और आचरण से बहुत प्रभावित था। मैंने उन्हें पहले ज्यादा नहीं देखा था, लेकिन जब वह गेंदबाजी करते हैं तो बहुत आश्वस्त होते हैं। उन्होंने इस खेल में कुछ बड़े ओवर फेंके। उन्होंने हमें शुभमन गिल के विकेट के साथ मैच में वापसी दिलाई।”

इनके अलावा दो विकेट लेने वाले तंजीम ने सभी को चौंका दिया और संभावित विश्व कप चयन की संभावना बढ़ा दी।

हाथुरुसुसिंघे ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि उन्होंने अपनी संभावनाओं को कोई नुकसान पहुंचाया है। उन्होंने वास्तव में विश्व कप चयन के लिए अपने हाथ आगे बढ़ा दिए हैं। अब तक, हम अपने चार तेज गेंदबाजों को बिना किसी चोट के आगे बढ़ने की कोशिश करने के बारे में सोच रहे थे। जैसा कि आप जानते हैं कि इबादत हुसैन विश्व कप के लिए नहीं है। मुझे लगता है कि तंजीम ने हमें दिखाया कि वह क्या करने में सक्षम है। मुझे पूरा विश्वास है कि अगर मुझे उस पर भरोसा करना पड़ा, तो वह उस पर खरे उतरेंगे।”

हालांकि बांग्लादेश ने सुपर फोर में एक जीत और दो हार के साथ तीसरा स्थान हासिल किया है, लेकिन फाइनल में जगह नहीं बना पाने से टीम को अभी भी दुख होगा। कोच ने कहा कि टीम की बल्लेबाजी में दिक्कतें हैं और इन-फॉर्म हृदोय को अपनी पारी को गहराई तक ले जाना होगा।

उन्होंने कहा, “हृदोय इस समय अपनी भूमिका के साथ-साथ अपने खेल को लेकर भी बहुत स्पष्ट हैं। वह अपने वनडे और टी-20 डेब्यू के बाद से ही रन बना रहे हैं। असल में, मैं उनसे थोड़ा निराश हूं। उन्होंने पचास रन बनाए और फिर अपना विकेट फेंक दिया। वह और अच्छा स्कोर बना सकते थे। कुल मिलाकर, वह अपनी भूमिका और अपने खेल को समझते हैं।”

मैच की बात करें तो इस मुकाबले में भारत ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया। एक समय बांग्लादेश की टीम केवल 59 रन पर 4 विकेट खोकर संघर्ष कर रही थी, हालाँकि, कप्तान शाकिब (85 गेंदों में छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से 80 रन) और हृदयॉय (81 गेंदों में पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से 54 रन) ने पांचवें विकेट के लिए 101 रन की साझेदारी की। निचले क्रम में, नसुम अहमद (45 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के के साथ 44), महेदी हसन (23 गेंदों में तीन चौकों के साथ 29) और तंजीम (आठ गेंदों में 14*) ने बेहतरीन बल्लेबाजी कर बांग्लादेश को 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 265 रनों के प्रतिस्पर्धी स्कोर तक पहुंचाया। भारत की तरफ से शार्दुल ठाकुर ने तीन और मोहम्मद शमी ने दो विकेट लिए। अक्षर पटेल, रवींद्र जडेजा और प्रसिद्ध कृष्णा को एक-एक विकेट मिला।

266 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को तंजीम ने शुरुआती झटके दिये, पहले उन्होंने कप्तान रोहित शर्मा (00) और इसके बाद वनडे डेब्यू करने वाले तिलक वर्मा (5) को आउट किया दिया। शुभमन गिल (133 गेंदों में आठ चौकों और पांच छक्कों की मदद से 121 रन) ने भारत की तरफ से अकेले से अकेले संघर्ष किया। उन्होंने केएल राहुल (19) और सूर्यकुमार यादव (26) के साथ उपयोगी साझेदारी की। अंत में अक्षर पटेल (34 गेंदों में तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से 42 रन) ने भारत के लिए संघर्ष किया और अपनी टीम को जीत के करीब ले गए, लेकिन उनके आउट होते ही भारतीय पारी 259 रनों पर सिमट गई और लक्ष्य से 6 रन दूर रह गई।

बांग्लादेश के लिए मुस्तफिजुर रहमान ने 3, तंजीम और महेदी को दो-दो विकेट व मेहदी हसन मिराज और शाकिब को एक-एक विकेट मिला। शाकिब को ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ का अवॉर्ड मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

रामदेव-बालकृष्ण ने विज्ञापन केस में दूसरा माफीनामा छपवाया:कोर्ट ने कहा था- साइज ऐसा न हो कि माइक्रोस्कोप से पढ़ना पड़े

यूथ इंडिया, नई दिल्ली। पतंजलि, बाबा रामदेव और बालकृष्ण ने बुधवार (24 अप्रैल) को अखबारों में एक और...

फर्रुखाबाद में घर से लापता आढ़ती का मिला शव:सिर पर लगा था हेलमेट, बाइक मिली गायब, मंडी में दुकान पर जाने के लिए निकले...

यूथ इंडिया, फर्रुखाबाद। फर्रुखाबाद में एक आढ़ती सोमवार की शाम को घर से निकला था। देर रात तक...

रॉबर्ट वाड्रा अबकी बार…अमेठी में कांग्रेस दफ्तर के बाहर लगे पोस्टर; राहुल गांधी क्या करेंगे

अमेठी, यूथ इंडिया। कांग्रेस ने अब तक अमेठी लोकसभा सीट पर अपने उम्मीदवार के नाम का ऐलान नहीं...

DRDO ने बनाई सबसे हल्की बुलेट प्रूफ जैकेट:स्नाइपर की 6 गोलियां नहीं भेद सकीं; आर्मी चीफ बोले- देश युद्ध में जाने से नहीं हिचकिचाएंगे

यूथ इंडिया, नई दिल्ली। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने देश की सबसे हल्की बुलेट प्रूफ जैकेट...