राजस्थान में मंत्री सुरेंद्र पाल विधानसभा चुनाव हारे:कांग्रेस प्रत्याशी ने 11 हजार वोटों से हराया; MLA चुने जाने से पहले मंत्री बनाए गए थे टीटी

Date:

Share post:

यूथ इंडिया, एजेंसी(श्रीगंगानगर)

राजस्थान में विधायक चुने जाने से पहले मंत्री बनाए गए सुरेंद्र पाल सिंह टीटी चुनाव हार गए हैं। श्रीकरणपुर विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी और राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सुरेंद्र पाल सिंह टीटी को कांग्रेस के रुपिंदर सिंह कुन्नर ने 11 हजार 261 वोटों से हरा दिया है। यह नतीजे सोमवार को आए।

गौरतलब है कि सुरेंद्र पाल सिंह टीटी को विधायक बनने से पहले ही भाजपा ने सरकार में राज्य मंत्री बना दिया था। राजस्थान में ऐसा पहली बार हुआ है, जब विधायक बनने से पहले मंत्री बने नेता चुनाव हार गए हों। नवंबर में हुए राजस्थान के विधानसभा चुनाव में श्रीकरणपुर सीट पर चुनाव कांग्रेस प्रत्याशी के निधन के कारण टाल दिया गया था।

जीत के बाद रुपिंदर कुन्नर भावुक हो गए। उन्होंने पिता गुरमीत की तस्वीर के आगे मत्था टेका तो रो पड़े। उन्होंने कहा कि यह चुनाव सरदार गुरमीत सिंह कुन्नर ही लड़ रहे थे।

इधर, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने रुपिंदर सिंह कुन्नर को जीत की बधाई देते हुए कहा कि यह जनादेश भाजपा की तानाशाही पर तमाचा है। वहीं, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा कि हार के कारणों की समीक्षा करेंगे। कुन्नर को 94761 और टीटी को 83500 वोट मिले।

तीसरे राउंड से पीछे चल रहे थे टीटी
डॉ. भीमराव अंबेडकर गवर्नमेंट पीजी कॉलेज में आज काउंटिंग हुई थी। इस सीट पर 5 जनवरी को मतदान हुआ था। चुनाव जीतने से पहले ही भाजपा प्रत्याशी सुरेंद्रपाल सिंह टीटी को भजनलाल सरकार में मंत्री बनाने से यह सीट चर्चा में बनी हुई थी।

परिणाम से तय हो गया कि अब टीटी मंत्री पद पर बरकरार नहीं रहेंगे। इस चुनाव परिणाम पर पूरे प्रदेश की नजरें टिकी थीं। 18 राउंड में मतगणना पूरा हुआ था। टीटी पहले दो राउंड में आगे थे, लेकिन तीसरे राउंड से लगातार पीछे होते चले गए थे।

मतगणना स्थल डॉ. भीमराव अंबेडकर गवर्नमेंट पीजी कॉलेज के बाहर आज (सोमवार) सुबह से ही प्रत्याशियों के समर्थक पहुंच गए थे।

मतगणना स्थल डॉ. भीमराव अंबेडकर गवर्नमेंट पीजी कॉलेज के बाहर आज (सोमवार) सुबह से ही प्रत्याशियों के समर्थक पहुंच गए थे।

विधायक बनने से पहले मंत्री बनाए गए थे टीटी
टीटी को विधायक बनने से पहले भजनलाल सरकार में राज्यमंत्री(स्वतंत्र प्रभार) बनाया गया था और चार अहम विभाग भी दिए गए थे। इस मामले में कांग्रेस नेताओं ने चुनाव आयोग में आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत दर्ज कराई थी। भाजपा के सत्ता में आने के बाद भजनलाल सरकार की यह पहली बड़ी परीक्षा थी।

टीटी के पास हैं ये विभाग…

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने श्रीकरणपुर विधानसभा सीट के नतीजे के बाद भाजपा सरकार पर निशाना साधा है।

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने श्रीकरणपुर विधानसभा सीट के नतीजे के बाद भाजपा सरकार पर निशाना साधा है।

एक महीने से सरकार कुछ नहीं कर रही: डोटासरा
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि सरकार को बने हुए एक महीना हो गया है, लेकिन सरकार कुछ नहीं कर रही थी। सिर्फ कांग्रेस सरकार की योजनाओं के नाम बदलने का काम कर रही थी और लोगों को बेरोजगार कर रही थी।

जनता ने यह बता दिया कि सरकार मंत्री बना सकती है, लेकिन विधायक नहीं बना सकती है। सरकार दिल्ली से जो पर्ची लाकर चल रही है, उसे बंद करें और जनता की भावना के अनुरूप फैसले करें।

छह महीने तक मंत्री रह सकते हैं टीटी
विधानसभा चुनाव में हार के बाद यह सवाल उठाया जा रहा है कि अब टीटी मंत्री रहेंगे या नहीं? नियमानुसार कोई भी भारतीय नागरिक बिना विधायक बने छह महीने तक मंत्री बने रह सकता है। टीटी विधानसभा चुनाव हार गए हैं, इसलिए भाजपा और टीटी पर मंत्री पद छोड़ने का नैतिक दबाव रहेगा, लेकिन कानूनन वे छह महीने तक मंत्री बने रह सकते हैं।

फिलहाल मंत्री बने उन्हें 8 दिन ही हुए हैं। उन्होंने अब तक कार्यभार भी नहीं संभाला था। सब कुछ भाजपा नेतृत्व पर निर्भर करेगा कि वह टीटी को मंत्री पद पर बनाए रखना चाहता है या नहीं।

कांग्रेस प्रत्याशी के निधन के बाद स्थगित हुआ था चुनाव
कांग्रेस कैंडिडेट गुरमीतसिंह कुन्नर के निधन के बाद श्रीकरणपुर विधानसभा सीट पर 25 नवंबर को चुनाव नहीं हुआ था। कांग्रेस ने यहां कुन्नर के बेटे को चुनाव में उतारा था। राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों पर भाजपा को 115, कांग्रेस को 70 सीट, BAP को 3, BSP को 2, RLD को 1, RLP को 1 और 8 सीटों पर निर्दलीय जीते।

राजस्थान विधानसभा में दलीय स्थिति

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

केदारनाथ में हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग:उतरने की कोशिश में 8 बार लहराया, टेल जमीन से टकराई; 7 लोगों की जान बची

यूथ इंडिया, रुद्रप्रयाग। केदारनाथ धाम में शुक्रवार सुबह हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई है। इसमें सवार पायलट...

पुणे एक्सीडेंट केस: फडणवीस ​​​​​​​बोले- कोर्ट का फैसला चौंकाने वाला:जुवेनाइल बोर्ड ने नरम रुख अपनाया; आरोपी नाबालिग जमानत पर, बिल्डर पिता सहित 5 गिरफ्तार

यूथ इंडिया, पुणे। महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने पुणे के पोर्श कार एक्सीडेंट मामले पर कोर्ट...

फर्रुखाबाद: अलीगंज के बूथ संख्या 343 पर 25-मई को होगा पुर्नमतदान:युवक ने 8 वोट डालने का बनाया था वीडियो, सपा प्रमुख समेत कई नेताओं...

यूथ इंडिया, एटा। फर्रुखाबाद लोकसभा की अलीगंज विधानसभा के मतदेय स्थल संख्या 343 प्राथमिक विद्यालय खिरिया पमारान में...

चुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका, पूर्व विधायक सोनू सिंह ने ज्वाइन की सपा, 2019 में दी थी मेनका गांधी को कड़ी टक्कर

यूथ इंडिया, लखनऊ। छठे चरण की वोटिंग से ठीक पहले भाजपा प्रत्याशी की मुश्किलें बढ़ गई हैं। बाहुबली...