अयोध्या धाम से जुड़ेगा देश का हर कोना, राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा तक चलेंगी कई स्पेशल ट्रेनें

Date:

Share post:

यूथ इंडिया, अयोध्या। जनवरी में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के बाद यात्रियों की संख्या में भारी आमद को देखते हुए रेलवे ने कमर कस ली है। रेलवे बोर्ड की अध्यक्ष जया वर्मा सिह्ना ने कहा है कि अयोध्या को भारत के हर कोने से जोड़ने के लिए कई स्पेशल ट्रेनों को चलाने की योजना बनाई जा चुकी है। दरअसल जया वर्मा बुधवार को अयोध्या जंक्शन पहुंची। यहां उतरने के बाद उन्होंने सबसे पहले राम जन्मभूमि जाकर रामलला का दर्शन किया। इस दौरान उनके साथ उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक शोभन चौधरी और डीआरएम मनीष थपल्याल भी मौजूद रहे।

बुधवार की सुबह कैफियत एक्सप्रेस से पहुंचने के बाद पहले उन्होंने पूर्वोत्तर रेलवे के स्टेशन रामघाट हाल्ट का निरीक्षण किया। एनईआर की जीएम सौम्या माथुर के माध्यम से उन्होंने स्टेशन की व्यवस्थाओं को जाना। इसके कुछ देर बाद उन्होंने गोंडा जिले के कटरा स्टेशन को भी देखा। अयोध्या जंक्शन का निरीक्षण करने और अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद उन्होंने बताया कि मंदिर की वजह से अयोध्या बहुत बड़ा टूरिस्ट सेंटर बन गया है। 

प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद आने वाले समय में पर्यटकों और श्रद्धालुओं की संख्या में काफी बढ़ोतरी होगी। भारत के हर कोने से अयोध्या के लिए आने की सुविधा हो इस तरह की रेलवे की तैयारी है। रेलवे बोर्ड की अध्यक्ष जया वर्मा सिह्ना ने बताया कि उतनी संख्या में पैसेंजर को हैंडल करने के लिए यहां पर हमारे जितने भी स्टेशन है उनकी सुविधाओं में बढ़ोतरी की जा जा रही है। चल रहे सभी कार्य समय से पहले पूरे हो जाएं इस बात की कोशिश है। जिससे जितनी भीड़ आए तो उसे ठीक से मैनेज कर सके और लोगों को हर तरह की सुविधा दे सकें। 

इसकी कोशिश है इसलिए जंक्शन पर रहने, खाने और इतने सारे लोगों को हैंडल करने के लिए भी हम अतिरिक्त प्लेटफार्म भी बना रहे हैं। बाहर होल्डिंग एरिया बनाए गए हैं। जिसमें लोग कुछ देर रुके और ठहर सकें। इसके बाद शहर में जाएं। जो लोग आए उन्हें ट्रेन पकड़ने के पहले रुकने की व्यवस्था मिल सके। यह सुविधा अयोध्या जंक्शन में ही नहीं क्षेत्र के अन्य स्टेशनों में भी की जा रही है। उन्होंने बताया नवनिर्मित परिसर को 20 से लेकर 50 हजार तक यात्रियों की क्षमता के हिसाब से बनाया गया है।

राममंदिर निर्माण की प्रगति का जायजा लेंगे योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को लगभग साढ़े चार घंटे अयोध्या में रहेंगे। सीएम योगी यहां रामलला के भव्य मंदिर निर्माण की प्रगति और अयोध्या में हो रहे विकास कार्यों का जायजा लेने के साथ ही समीक्षा बैठक भी करेंगे। साथ ही उनका यहां दर्शन-पूजन का भी कार्यक्रम है। इससे पहले मुख्यमंत्री 2 दिसंबर को अयोध्या एयरपोर्ट का निरीक्षण करने केंद्रीय मंत्रियों के साथ आये थे। मुख्यमंत्री का इस माह में दूसरी बार अयोध्या आगमन हो रहा है। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हेलीकॉप्टर से लगभग 11 बजे रामकथा हेलीपैड पहुंचेंगे, जहां से सबसे पहले वह हनुमानगढ़ी और श्रीराम जन्मभूमि परिसर में रामलला के दर्शन पूजन करेंगे। इसके बाद वह यहां हो रहे मंदिर निर्माण और अन्य विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करेंगे। सीएम योगी सर्किट हाउस में अल्प प्रवास के बाद आयुक्त कार्यालय में दोपहर 1:30 बजे विकास कार्यों एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा करेंगे तथा अंगले चरण में संतों के साथ बैठक कर लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

राज्यसभा चुनाव में भाजपा ने अखिलेश को दी बड़ी मात

क्रॉस वोटिंग से सभी कैंडिडेट जीते, सपा के आलोक रंजन हारे यूथ इंडिया, लखनऊ। यूपी में लोकसभा चुनाव से...

CBI को सौंपी गई इनेलो नेता की हत्या की जांच:देर शाम अंतिम संस्कार; सुपारी किलिंग के शक में तिहाड़ में गैंगस्टरों से पूछताछ

यूथ इंडिया, बहादुरगढ़। हरियाणा में इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी की हत्या की...

पेटीएम बैंक के चेयरमैन विजय शेखर का इस्तीफा:नया बोर्ड बनाया गया, इसमें सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व चेयरमैन श्रीनिवासन भी शामिल

यूथ इंडिया, नई दिल्ली। पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा ने सोमवार (26 फरवरी) को पेटीएम पेमेंट्स बैंक...

गजल गायक पंकज उधास नहीं रहे:पैंक्रियाज कैंसर से 72 साल की उम्र में निधन, 2006 में पद्मश्री मिला था

यूथ इंडिया, नई दिल्ली। मशहूर गजल गायक पंकज उधास का आज 72 साल की उम्र में निधन हो...